وَاللَّهُ الَّذِي أَرْسَلَ الرِّيَاحَ فَتُثِيرُ سَحَابًا فَسُقْنَاهُ إِلَى بَلَدٍ مَّيِّتٍ فَأَحْيَيْنَا بِهِ الْأَرْضَ بَعْدَ مَوْتِهَا كَذَلِكَ النُّشُورُ

अल्लाह ही वोह है जिसने हवाओं को भेजा तो वोह बादलों को फैलाती हैं और फिर हम इनको मृत शहर तक ले जाते हैं और भूमि के मृत हो जाने के बाद हम इसको ज़िनदा कर देते हैं और इसी तरह मृत्यु लोग़ दोबारा ज़िन्दा किए जाएंग़ें

(Quran, 35: 9)

अल्लाह ही वोह है जिसने हवाओं को भेजा तो वोह बादलों को फैलाती हैं ...