IQNA

16:27 - May 25, 2019
समाचार आईडी: 3473614
अंतर्राष्ट्रीय समूह- भारत में 2019 के चुनाव के परिणामों की घोषणा के साथ वर्तमान प्रधान मंत्री चुनाव जीतने में सक्षम रहे , इस घटना में एक दिलचस्प बिंदु यह रहा कि, मुस्लिम प्रतिनिधियों की संख्या में वृद्धि हुई है।

भारत से IQNA की रिपोर्ट के अनुसार, नरेंद्र मूदी (भारत के वर्तमान प्रधानमंत्री) की पार्टी 2014 के चुनावों के बाद एक बार फिर सत्ता हासिल करने में सफल रही, भाररतिया जनता पार्टी (भारत की पीपुल्स पार्टी, जो राष्ट्रवादी और राजनीतिक है, और मूदी चुनाव में पार्टी का प्रतिनिधित्व कर रहे थे) ) 303 संसदीय सीटें जीतीं, और सरकार के विपक्षी दल फिर से चुनाव जीतने में असफल रहे।
भारतीय चुनावों की इस अवधि में, मुस्लिम प्रतिनिधि अधिक से अधिक देखे जासकते हैं, 27 मुस्लिम प्रतिनिधियों ने इस चुनाव में जीत हासिल की है, जबकि 2014 में, केवल 20 मुस्लिम प्रतिनिधि भारतीय संसद में पहुंचे थे।
हैदराबाद के असदुद्दीन ओवेसी, जो इत्तेहादुल मुस्लिमीन पार्टी के प्रमुख हैं, बहुमत के साथ जीत हासिल करने और संसद में जगह हासिल करने में सक्षम रहे। महाराष्ट्र के सैय्यद जलील की अधिक वोटों विजय भी महत्वपूर्ण थी कि, 40 वर्षों के बाद, इस शहर के मुसलमान ओरंग अबाद शहर (महाराष्ट्र, भारत के प्रांत का एक शहर) की सीट तक पहुँचने में सक्षम हुऐ।
इस संबंध में, उत्तर प्रदेश (भारत के उत्तर पूर्व में प्रांत), बिहार, जम्मू और कश्मीर, केरल, पंजाब, पश्चिम बंगाल और तमिलनाडु से यह प्रतिनिधि संसद में पहुचे हैं।
आज़म खान, शफीक़ अल-रहमान बर्क़, अफज़ाल अंसारी, बदरुद्दीन चुनाव जीतने वालों में शामिल हैं। इसी तरह महबूब अली, मोहम्मद जावेद, फारूक अब्दुल्ला, हसन मसूदी, मोहम्मद अकबरलोन, ई.ऐम आरिफ, मोहम्मद बशीर, मोहम्मद सादिक़ और मोहम्मद फैसल, नुसरत जहान, खलील अल-रहमान, अबू ताहिर खान, साजिद अहमद, आफ़रीन अली और के नवास कानी कुछ प्रतिनिधि हैं जो इस चुनाव के इस दौर में सफल रहे।
असदद्दीन ओवेसी, बदरुद्दीन अजमल, अबू हाशिम खान चौधरी, अब्दुल खालिक, कुवंर दानिश अली,इम्तेयाज़  जलील, एस.टी. हसन, फजलुर रहमान, चौधरी महबूब, अली क़ैसर जैसे अन्य प्रतिनिधियों ने ससंसद में अपना स्थान बनाया हैं।
भारतीय संसदीय चुनाव के अंतिम चरण में, 918 उम्मीदवार थे, इसी तरह, भारतीय संसदीय चुनावों के पांचवें दौर में 674 लोगों ने प्रतिस्पर्धा की, जो दुनिया के सबसे अधिक आबादी वाले लोकतंत्र में इतिहास का सबसे बड़ा चुनाव माना जाता हहै, 19 मई को अपना काम समाप्त कर दिया।
3814440
भारत के 2019 चुनाव परिणाम की घोषणा / मुस्लिम प्रतिनिधि मे वृद्धि
भारत के 2019 चुनाव परिणाम की घोषणा / मुस्लिम प्रतिनिधि मे वृद्धि
नाम:
ईमेल:
* आपकी टिप्पणी :